What is Bitcoin in Hindi और बिटकॉइन कैसे खरीदें?

आजकल आप अपने दोस्तों को बहुत बार बात करते जरूर सुना होगा कि उन्होंने बिटकॉइन में इतना इन्वेस्ट किया था तो इतना मुनाफा हुआ या फिर इतने का घाटा हो गया या फिर अखबार और किसी अन्य माध्यम से भी जरूर बिटकॉइन के बारे में सुना या पढ़ा होगा। तो अगर आप बिटकॉइन के बारे में नहीं जानते हो तो आपके मन में बार बार यही प्रश्न आता होगा कि ये बिटकॉइन होता क्या है?, इसमें इन्वेस्ट कैसे करें?, ये काम कैसे करता है?, बिटकॉइन करेंसी का वर्तमान प्राइस क्या है?, बिटकॉइन का इस्तेमाल कैसे और कहां पर किया जाता है? तो फिर आप सही जगह पे आये हैं क्युकी आज हम इस पोस्ट के माध्यम से इन सब बताओं के बारे में डिटेल्स में बताने वाले है। अगर आप बिटकॉइन से जुड़ी हुई हर एक जानकारी चाहते हैं, तो इसके लिए आपको हमारी इस लेख(bitcoin kya hai) को अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि हम आपको हमारे इस लेख के माध्यम से बिटकॉइन के बारे में पूरी इंफॉर्मेशन देने वाले हैं। तो चलिए अब समय के महत्व को ध्यान में रखते हुए शुरू करते हैं हमारा यह लेख bitcoin kya hai-

Contents

बिटकॉइन क्या है / What is Bitcoin in Hindi?

बिटकॉइन एक प्रकार की करेंसी है। लेकिन इस करेंसी को कोई देख नहीं सकता। यह वर्चुअल फॉर्म में पाई जाती है। इसे इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में सुरक्षित करके रखते हैं। पिछले कुछ सालों से बिटकॉइन का प्रचलन तेजी से बढ़ा है। आप बिटकॉइन को डिजिटल गोल्ड की तरह खरीद सकते हैं। बिटकॉइन विश्व में सबसे ज्यादा प्रचलित क्रिप्टोकरेंसी है जो ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी को use कर के बनाया गया है। अब आपके मन में एक सवाल उठ रहा होगा कि ये क्रिप्टोकरेंसी क्या होता है? तो चलिये सबसे पहले क्रिप्टोकरेंसी के बारे में जान लेते है।

Cryptocurrency क्या होती है?

क्रिप्टोकरेंसी भी बाकी करेंसी जैसे डॉलर, रुपया, दिरहम की तरह ही होती है। लेकिन उनमें और क्रिप्टोकरंसी में बस इतना अंतर है कि वे फिजिकल फॉर्म में पाई जाती हैं और क्रिप्टोकरेंसी वर्चुअल फॉर्म में। यानी कि आप क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल फिजिकल रूप में नहीं कर सकते हैं। यह एक डिजिटल करेंसी है। यह कंप्यूटर एल्गोरिथ्म पर बनी हुई करेंसी है। जो कि इंटरनेट पर ही अवेलेबल है। इसके अलावा क्रिप्टोकरेंसी पर किसी भी अथॉरिटी का कंट्रोल नहीं है।

जब भारत सरकार ने डीमोनेटाइजेशन यानी नोटबंदी की थी तब भी cryptocurrency पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ा था और भविष्य में भी किसी प्रकार की कोई नोटबंदी का क्रिप्टोकरेंसी पर प्रभाव पड़ने वाला नहीं है। दुनिया में बहुत सारी cryptocurrency है। जैसे- Dog कॉइन,  बिटकॉइन, SIA  coin, एथेरियम रिप्पल और मॉनेरो। यह सभी करेंसी तेजी से ग्रोथ करती है इसलिए इन्वेस्टर को इस में ज्यादा मुनाफा होता है। ज्यादा मुनाफा होने के कारण ही यह क्रिप्टोकरंसी दुनिया भर में फेमस है और इन्वेस्टर्स इन में अपना पैसा लगाना पसंद करते हैं।

अभी कौन-कौन सी क्रिप्टोकरंसी मार्केट में हैं

आपको बता दे वैसे तो 1000 से भी ज्यादा क्रिप्टोकरंसी अभी मार्केट में अवेलेबल है लेकिन हमने इनमें से कुछ ऐसे ही क्रिप्टोकरंसी सिलेक्ट की है।  जोकि ज्यादा इस्तेमाल की जाती है। चलिए हम आपको बताते हैं कौन कौन से वे क्रिप्टो कॉइन है। जो कि लगातार इस्तेमाल किए जा रहे हैं।

1. Etherum– इसका इस्तेमाल इंटरचेंज करेंसी के रूप में किया जाता है। ईथर एक तरह का टोकन है। जिसका इस्तेमाल ईथरम ब्लॉकचेन के अंतर्गत ट्रांजैक्शन के लिए किया जाता है।

2. Litecoin– आपको बता दें, इस करेंसी का अविष्कार 2011 में हुआ था। यह एक तरह की डिसेंट्रलाइज्ड टेक्नोलॉजी की सहायता से काम करता है। इसकी सहायता से बिटकॉइन अधिक तेज होता है।

3. Dash Coin–  इस क्रिप्टोकरंसी का आविष्कार 2014 में हुआ था । शुरुआत में इसको डार्क क्वीन के नाम से भी जाना जाता था। यह मास्टर नोट नाम के एक नेटवर्क की सहायता से काम करता है। यह बिटकॉइन से भी तेज और इफेक्टिव है।

4. Dogecoin– बिली मार्कस और जैक्सन पामर ने 2013 में डोगेकोइन, क्रिप्टोकरंसी बनाई।

5. Bitcoin– इस करेंसी के बारे में हम इस पोस्ट के माध्यम से डिटेल में बता रहे हैं

हमने क्रिप्टोकरेंसी के बारे में जान लिया अब वापस अपने main topic बिटकॉइन पे आते हैं।

बिटकॉइन के बारे में

Cryptocurrency के नियमों के आधार पर बिटकॉइन काम करता है। कोडिंग भाषा को सुलझाने के लिए बिटकॉइन को बिटकॉइन वॉलेट में सेव करते हैं। एक सिक्योर ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करने के लिए हम इसका उपयोग करते हैं जो कि 0 से 1 सीरीज में आती है। बिटकॉइन एक वर्चुअल करेंसी है जो कि इतना ज्यादा फेमस हो चुकी है कि इसको दुनिया भर की बड़ी-बड़ी कंपनियों के द्वारा बिटकॉइन को अपनाया जा चुका है। जैसे माइक्रोसॉफ्ट और टेस्ला।

आपको बता दें इसको 2008 में सातोंसी नाकामोतो ने बिटकॉइन को बनाया था। इसके 1 साल बाद यानी कि 2009 में इन्होंने अपने सॉफ्टवेयर को लॉन्च कर दिया। आपको बता दें इसमें सबसे छोटी यूनिट इन्होंने अपने ही नाम यानी कि सातोंसी पर रख दी। 1 बिटकॉइन में 10 करोड़ सातोंसी होती है। सातोंसी नाकामोतो ही बिटकॉइन के असली फाउंडर है।

बिटकॉइन का प्रोडक्शन कैसे होता है?

आप सोच रहे होंगे कि bitcoin एक वर्चुअल करेंसी है और इसका प्रोडक्शन बहुत आसानी से हो जाता होगा। तो हम आपको बता दें आप बिल्कुल गलत है। इसका प्रोडक्शन इतना आसान नहीं होता है। यह माइनिंग मेथड से बनाई एक इलेक्ट्रॉनिक करेंसी है। माइनिंग प्रोसेस बहुत लंबी होती है। बिटकॉइन केवल लिमिटेड नंबर्स में बनाए जाते हैं। बिटकॉइन की पूरी दुनिया में डिमांड काफी ज्यादा रहती है जिसके कारण इसका प्राइस और भी ज्यादा बढ़ जाता है।

बिटकॉइन का इस्तेमाल कैसे किया जाता है?

Bitcoin का इस्तेमाल अलग-अलग ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के लिए किया जाता है। आपको बता दे बिटकॉइन p2p नेटवर्क पर बेस्ड है। आजकल ऑनलाइन डेवलपर्स और एनजीओस इसका इस्तेमाल ऑनलाइन ट्रांजैक्शन की फॉर्म में कर रही है

ऑनलाइन ट्रांजैक्शन जैसे हम बैंक में करते हैं। हमें पता लग जाता है कि यह बैंक से पेमेंट की है। लेकिन बिटकॉइन का ऐसा पब्लिक रिकॉर्ड नहीं होता । इसे ट्रैक भी नहीं किया जा सकता। जब दो व्यक्ति के बीच इसे एक्सचेंज किया जाता है। तभी इसका रिकॉर्ड देखा जाता है। एक बार तो इसका रिकॉर्ड जब देखा जा सकता है जब किसी व्यक्ति ने इसको खरीदे और एक बार इसका रिकॉर्ड जब देखा जा सकता है, जब वह व्यक्ति बिटकॉइन को बेच रहा हो।

बिटकॉइन के फायदे क्या है?

Bitcoin kya hai और इसके इस्तेमाल जानने के अलावा आपको यह भी पता होना चाहिए कि बिटकॉइन इस्तेमाल करने के क्या-क्या फायदे हैं, तो चलिए अब हम आपको बिटकॉइन क्रिप्टोकरंसी के कुछ फायदे बताते हैं।

  • बिटकॉइन अकाउंट ब्लॉक नहीं किया जा सकता। जैसे कभी-कभी आपका अकाउंट ब्लॉक हो जाता है।
  • बिटकॉइन को पूरी दुनिया में कहीं भी और किसी को भी भेज सकते हैं ।
  • इंटरनेशनल ट्रांजैक्शन में बिटकॉइन का इस्तेमाल किया जाता है।
  • Bitcoin से ट्रांजैक्शन करने में मिडिल मैन का कोई रोल नहीं होता है। जिससे इसमें कम खर्चा आता है। अभी तक बिटकॉइन को बहुत कम देशों के द्वारा मान्यता दी गई है इसीलिए इसका इस्तेमाल बिना किसी एक्स्ट्रा टैक्स के किया जा सकता है।

बिटकॉइन के नुकसान क्या है?

जैसे एक सिक्के के दो पहलू होते हैं वैसा ही बिटकॉइन के साथ भी है। आपको बता दें इतने ज्यादा फायदे होने के साथ-साथ इस वर्चुअल क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन के कुछ नुकसान भी हैं। जो कि नीचे लिखे गए हैं-

  • बिटकॉइन में सबसे बड़ा नुकसान तो यह है कि अगर आपका डाटा हैक हो जाए, तो आप उसको रिकवर नहीं कर पाएंगे।
  • इसके अलावा अगर आप पासवर्ड भूल जाते हैं तो फिर आप अपने सारे बिटकॉइन खो सकते हो।
  • आपको बता दें bitcoin पर किसी भी देश या ऑर्गेनाइजेशन का कंट्रोल नहीं है जिस कारण से बिटकॉइन को इल्लीगल चीजें खरीदने के लिए इस्तेमाल में किया जाता है। अक्सर कभी किसी का डाटा हैक करने पर बिटकॉइन का ही लेनदेन करते हैं जो कि इल्लीगल काम है।

Bitcoin Business Kya Hai?

आप बिटकॉइन में ट्रेड कर सकते हैं। बिटकॉइन में ट्रेड करने की शुरुआत 2011 से हो चुकी है। अब हम आपको बताते हैं आप bitcoin में बिजनेस कैसे कर सकते हैं।

  • आपको बता दें बिटकॉइन में बिजनेस करने के लिए सबसे पहले आपके पास एक अकाउंट होना जरूरी है।
  • अकाउंट बनाने के लिए आपको ईमेल वेरीफिकेशन और अपना अकाउंट वेरीफिकेशन करना होगा।
  • इसके बाद आपको बिजनेस मेथड का सिलेक्शन करना होगा। ट्रेडिंग के लिए बिटकॉइन ट्रेडिंग कार्ट है। जहां पर बिटकॉइन के प्राइस के सभी रिकॉर्ड होते हैं।

इस तरह से आप बिटकॉइन में  बिजनेस कर सकते हैं। इसके अलावा आप बिटकॉइन को लंबे समय तक खरीद कर भी रख सकते हैं। Long-term में बिटकॉइन ने काफी अच्छा रिटर्न दिया है। कई इन्वेस्टर्स को बिटकॉइन ने मालामाल बना दिया है। इसीलिए आप बिटकॉइन में इन्वेस्टमेंट करके भी प्रॉफिटेबल बिजनेस कर सकते हैं।

Bitcoin Price Kya Hai in Hindi?

आपको बता दें अभी वर्तमान समय में एक बिटकॉइन की कीमत लगभग 16 लाख भारतीय रुपए के आसपास है। इस पर किसी भी कंट्री का कंट्रोल नहीं है इसीलिए मार्केट के हिसाब से इसका प्राइस ग्राफ ऊपर नीचे होता रहता है। कई बार तो बिटकॉइन का ग्राफ 45  लाख के आंकड़े को भी छू चुका है। हालांकि अभी इसका प्राइस नीचे आया है।

बिटकॉइन कैसे खरीदें?

अभी हमने आपको बिटकॉइन का प्रजेंट टाइम में प्राइस बताया। तो चलिए अब हम आपको बताते हैं कि आप बिटकॉइन को कैसे खरीद सकते हैं? भारत में बिटकॉइन को खरीदने और बेचने के लिए बहुत सारे वेबसाइट अवेलेबल हैं पर हम यहाँ पर बस 2 वेबसाइट के बारे में बात करेंगे। तो चलिए अब हम आपको इन दोनों वेबसाइट पर बिटकॉन खरीदने की पूरी प्रोसेस बताते हैं।

पहली वेबसाइट है Unocoin :

इस वेबसाइट पर बिटकॉइन खरीदने के लिए कोई भी एक्स्ट्रा चार्ज नहीं लगता है। इसको आप बिजनेस प्वाइंट के साथ जोड़ सकते हैं। अगर बिटकॉइन में कोई उतार-चढ़ाव आए, तो इसको आप तुरंत सेल कर सकते हैं या आप इसको होल्ड कर कर रख सकते हैं। इस पर कोई चार्ज नहीं लगता इसके अलावा इसमें ऑटोशेल का भी जबरदस्त फीचर्स है।

दूसरी वेबसाइट है Zebpay:

इसकी सहायता से आप बिटकॉइन खरीद सकते हैं। आपको बता दें इसमें आप बिटकॉइन के बदले में अमेजॉन और एमएमटी के वाउचर भी खरीद सकते हैं ।

Bitcoin Wallet Kya Hai?

आपको बता दें क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन को हम इलेक्ट्रॉनिकली स्टोर करके रख सकते हैं और इस रखने के लिए हमें बिटकॉइन के वॉलेट की आवश्यकता होती है। यह वॉलेट बहुत से प्रकार के होते हैं। जैसे डेस्कटॉप वॉलेट, मोबाइल वॉलेट, ऑनलाइन वेब वॉलेट, हार्डवेयर वॉलेट इन सब में से किसी एक को सिलेक्ट करके हमें उसमें अपना अकाउंट क्रिएट करना होता है।

यह सभी वॉलेट हमें एड्रेस के रूप में एक यूनिक आईडी प्रोवाइड करता है। जैसे कि मान लीजिए आपने कहीं से एक बिटकॉइन प्राप्त कर लिया है और उसको आप अपने अकाउंट में रखना चाहते हैं। तो वहां पर आपको उसके एड्रेस की जरूरत पड़ेगी। आप उसी के सहायता से बिटकॉइन को अपने वॉलेट में स्टोर कर सकते हैं। ऐसे में ऊपर लिखे हुए वॉलेट हमें एड्रेस के साथ यूनिक आईडी प्रोवाइड करते हैं जो कि bitcoin को स्टोर करने में मददगार साबित होते हैं।

बिटकॉइन माइनर क्या होता है?

आपको बता दें हम जिस भी कंट्री में रहते हैं। वहां पर नोट छापने की एक लिमिट होती है। वैसे ही बिटकॉइन को बनाने पर भी लिमिटेशंस सेट की गई है। अब आपको बताते हैं बिटकॉइन को बनाने पर क्या लिमिटेशंस है ।

बिटकॉइन को बनाने पर लिमिटेशंस यह है कि मार्केट में बिटकॉइन 21 मिलियन यानी कि 2.10 करोड़ से ज्यादा नहीं आ सकते हैं । फिलहाल मार्केट में यह 1.30  करोड़ के आसपास है जो भी नई बिटकॉइन है वह माइनिंग के जरिए ही आते हैं। मान लीजिए आपको किसी को बिटकॉइन सेंड करना है, तो बिटकॉइन भेजने की प्रोसेस वेरीफाई करते हैं और वेरीफाई करने वाले को माइनर कहा जाता है। माइनर के पास हाई पावर कंप्यूटर होते हैं। इन कंप्यूटर से बिटकॉइन ट्रांजैक्शन को वेरीफाई किया जाता है।

भारत में क्रिप्टोकरंसी और बिटकॉइन का भविष्य क्या है

Bitcoin kya hai यह तो आपको पता चल गया लेकिन आपको बिटकॉइन के फ्यूचर को भी ध्यान में रखना बेहद जरूरी है। तो चलिए अब हम आपको बताते हैं बिटकॉइन का भारत में फ्यूचर कैसा रहने वाला है। आपको बता दें कई देशों में बिटकॉइन को ban भी किया जा चुका है। जिसको देखते हुए अब ऐसी बात चल रही है कि भारत सरकार भी जल्द ही बिटकॉइन पर एक कोई सख्त कदम उठाने वाली है और इसको ban कर सकती है।

बजट 2022 में भारत सरकार ने क्रिप्टोकरंसी पर क्या ऐलान किया है?

आपको बता दें इस साल 2022 के बजट का ऐलान हो चुका है। जिसमें भारत की फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने बिटकॉइन पर टैक्स का अनाउंसमेंट किया है। इस टैक्स को अगले वित्तीय वर्ष से शुरू किया जाएगा। आपको बता दें क्रिप्टोकरंसी पर आप जितना पैसा इन्वेस्ट करेंगे उसका 1% आपको टैक्स के रूप में देना होगा तथा हुए लाभ पर 30% का टैक्स देना होगा और यह 1 अप्रैल 2022 से लागू हो चुका है। अब यह 31 मार्च 2023 तक चलेगा। इसके आगे भी भारत के वित्त मंत्रालय की तरफ से क्रिप्टो पर यही नियम कायम किया जा सकता है।

क्या बिटकॉइन में इन्वेस्ट करना पूरी तरह से सुरक्षित है

आपको बता दें सन 2013 में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने यह कहा था कि इसकी ऑफिशियल अनुमति नहीं होती है। लेकिन क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन में इन्वेस्ट करना थोड़ा जोखिम भरा है। अगर आप अपना पासवर्ड भूल जाते हैं तो आप अपने पैसों को हमेशा के लिए गवा देंगे। कई बार बिना किसी चेतावनी के bitcoin  का प्राइस एक दिन में ही 40 से 50% तक गिर जाता है। लेकिन फिर भी बिटकॉइन में इन्वेस्ट करना सिक्योर है ।

निष्कर्ष:

Bitcoin में इन्वेस्ट करना पूरी तरह से सुरक्षित है। लेकिन इस बात को भुलाया नहीं जा सकता कि बिटकॉइन के प्राइस का ग्राफ बेहद ज्यादा फ्लकचुएट होता रहता है। कभी-कभी यह देखा गया है कि 1 दिन के अंदर ही बिटकॉइन का प्राइस आधे से ज्यादा गिर जाता है। यानी कि अगर बिटकॉइन का प्राइस 20 लाख है, तो 1 दिन में ही यह 10 लाख तक भी पहुंच सकता है। ऐसे में बिटकॉइन में इन्वेस्टमेंट करना बेहद ज्यादा जोखिम भरा हो सकता है। लेकिन फिर भी  अपने जोखिम पर इन्वेस्टर्स बिटकॉइन में इन्वेस्ट कर सकते हैं। बिटकॉइन में इन्वेस्ट करना वैसे पूरी तरह से सुरक्षित  है। आप बिटकॉइन में इन्वेस्ट करते वक्त आपकी सिक्योरिटी की चिंता ना करें। और आराम से इन्वेस्ट करें ।

यह था आज का हमारा यह लेख जिसमें हमने आपको बताया bitcoin kya hai? क्रिप्टो करेंसी कितने प्रकार की होती हैं? कौन-कौन सी क्रिप्टोकरंसी मार्केट में है? बिटकॉइन के क्या फायदे हैं और क्या नुकसान है? बजट 2022 में बिटकॉइन पर कितना चार्ज लगाया गया? वर्तमान समय में bitcoin का क्या रेट है? अभी तक आपको बिटकॉइन के बारे में सब कुछ अच्छे से समझ आ गया होगा। नीचे बिटकॉइन से संबंधित बार-बार पूछे गए प्रश्न और उनके उत्तर दिए गए हैं। आप उनको पढ़कर बिटकॉइन के बारे में और अच्छे से जान सकते हैं।

FAQs:

1. क्रिप्टो करेंसी क्या है

अगर हम आसान शब्दों में कहें तो क्रिप्टोकरंसी एक डिजिटल पेमेंट सिस्टम है  जो कि कंप्यूटर एल्गोरिथ्म पर बेस्ट है। यह केवल नंबर के फॉर्म में ऑनलाइन   रहती है। किसी भी देश की सरकार का इस पर कोई कंट्रोल नहीं है

2. एक बिटकॉइन में कितने रुपए होते हैं?

आपको बता दें बिटकॉइन का प्राइस ऊपर नीचे होता रहता है। अभी वर्तमान में एक बिटकॉइन की कीमत करीब 16लाख भारतीय रुपए के आसपास है

3. बिटकॉइन में इन्वेस्ट कैसे करें?

आप बिटकॉइन में क्रिप्टोकरंसी एक्सचेंज के तहत इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं। इसके लिए आपको सारी डिटेल लेनी होगी । फिर ईमेल और अकाउंट सिक्योरिटी वेरी फिकेशन के बाद आपके देश के नाम को एंटर करना होगा। इसके बाद आप बिटकॉइन में इन्वेस्ट कर सकते हैं।

4. बिटकॉइन वॉलेट की जरूरत क्यों पड़ती है?

बिटकॉइन की ट्रांजैक्शन जो ब्लॉकचेन में इंक्लूड हो  जाती है। बिटकॉइन वॉलेट इनको गुप्त डाटा रखता है।

5. इंडिया में बिटकॉइन का भविष्य क्या है?

2022 में भारत डिजिटलाइजेशन की तरफ बढ़ रहा है। ऐसे में डिजिटल करंसी बिटकॉइन का इस्तेमाल भी बढ़ता जा रहा है। भारत में आगे क्रिप्टो और भी ज्यादा इस्तेमाल होने वाला है। हालांकि कुछ जानकारी यह कह रही है कि बिटकॉइन का इलीगल यूज़ हो रहा है इसलिए इस पर बैन लग सकता है।

6. बिटकॉइन कैसे काम करता है

बिटकॉइन p2p नेटवर्क पर based है और इसी के हिसाब से काम करता है। जिसका मतलब है कि लोग एक दूसरे के साथ सीधा बिना किसी बैंक क्रेडिट कार्ड कंपनी के माध्यम से  इजीली ट्रांजैक्शन कर सकते हैं।

7. बिटकॉइन किस कंट्री की करंसी है?

मुख्य तौर पर बिटकॉइन को किसी भी देश की करेंसी नहीं कहा जा सकता। क्योंकि यह एक वर्चुअल करेंसी है और इसको हर व्यक्ति हर देश से ऑनलाइन खरीद या बेच सकता है। इसका इस्तेमाल ऑनलाइन किया जाता है।

उम्मीद है, आपको हमारा यह लेख bitcoin kya hai पसंद आया होगा। अगर आपको हमारा यह लेकर पसंद आया हो तो आप इसको शेयर करना ना भूले।

 

और पढ़ें:

होम पेज

मोबाइल से पैसे कमाने वाला एप्प

पैसा कमाने वाला गेम

घर बैठे मोबाइल से पैसे कमाने के आसान तरीके

डिजिटल मार्केटिंग क्या होता है?

Online Paise Kaise Kamaye

Leave a Comment