Agneepath Yojana Kya Hai? अग्नीपथ योजना के उद्देश्य और चयन प्रक्रिया

Agneepath Yojana Kya Hai: आजकल नौजवानों की भारतीय सेना में भर्ती होने के लिए अपनी अलग ही रुचि व साहस होता है। कई लोग चाहते हैं कि वह भारतीय सेना में भर्ती हो सके और देश की रक्षा कर अपने देश को सेवा प्रदान करें। उसके लिए वह काफी मेहनत भी करते हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए हमारे देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह जी ने अग्नीपथ नामक एक योजना निकाली है जिसके अंतर्गत जो नौजवान सेना में भर्ती होना चाहते हैं उनको चार सालों के लिए सेना में भर्ती किया जाता है। जिसमें आपको इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होता है जिसके बाद अगर आपका चयन इसमें हो जाता है, तो आप को चार साल के लिए सेना में भर्ती होने का मौका मिल जाता है तथा उसमें से सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले टॉप 25% युवाओ को उसमें फुल टाइम जॉब मिल जाता है। तो आज की इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि अग्नीपथ योजना क्या है? इसका क्या उद्देश्य है? अग्निपथ योजना की सारी जानकारी आज के इस आर्टिकल में हम आपको देने वाले हैं। तो अगर आप भी जानना चाहते हैं कि अग्नीपथ योजना क्या है? और आप इसका फायदा कैसे ले सकते हैं? और कैसे आर्मी सेना में भर्ती हो सकते हैं? तो आज का यह आर्टिकल मे आपको अग्नीपथ योजना से जुड़ी सारी जानकारी पूरे विस्तार से मिल जाएगी।

अग्नीपथ योजना क्या है? / Agneepath Yojana Kya Hai?

अग्नीपथ योजना, इस योजना को भारत देश के नौजवानों के लिए मुख्य तौर पर लागू किया गया है। क्योंकि भारत देश में कई नौजवान ऐसे होते हैं, जिनकी सेना में भर्ती होने के लिए विशेष रूचि होती है और वह देश की सुरक्षा के लिए मर मिटने को तैयार रहते हैं। इसी को बढ़ावा देने के लिए हमारे देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह जी ने इस योजना को आरंभ किया है। इस योजना की मदद से जो लोग आर्मी में भर्ती होना चाहते हैं उनको आर्मी के तीनों शाखाओं जल सेना, थल सेना, एवं वायु सेना तीनों शाखाओं में भारी संख्या में भर्ती निकाली जाएगी। जिससे एक तरफ  रोजगार में भी वृद्धि तो होगी ही और देश की सुरक्षा भी हो पाएगी और नौजवानों को उनका सपना पूरा करने का मौका मिलेगा।

अग्नीपथ योजना की शुरुआत 16 जून 2022 को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह एवं तीनों शाखाओं के प्रमुख के मंजूरी पर लागू किया गया था। इसके अंतर्गत देश के नौजवानों को 4 साल के लिए सेना में भर्ती दी जाती है। तथा इसके अंतर्गत भर्ती नौजवानों को अग्निवीर नाम से पुकारा जाता है।

अग्नीपथ योजना के उद्देश्य / Agneepath Yojana ka Uddeshya

अग्नीपथ योजना का मुख्य उद्देश्य है, भारत देश के नौजवान व्यक्तियों को आत्मनिर्भर बनाना तथा उनका सपना पूरा करना। जो कि भारतीय सेना में भर्ती होना चाहते हैं। यह योजना का मुख्य उद्देश्य बेरोजगारी को खत्म करना भी है। इस योजना से मुख्य रूप से यह लाभ हुआ है कि लोगों की देश के सेना के प्रति सक्रियता बढ़ी है, और वह देश की सुरक्षा के महत्व को जानने लगे हैं। इस योजना के अंतर्गत जो अग्निवीर होते हैं। जो इस योजना के अंतर्गत भर्ती किए जाते हैं। उन्हें स्पेशल आर्मी ट्रेनिंग दी जाती है। जिससे वह अपने काम में कुशल हो जाते हैं, और देश की सुरक्षा के लिए अपना पूर्ण योगदान दे पाते हैं। अभी इस योजना के अंतर्गत भर्ती होने के लिए आयु सीमा को 21 वर्ष से बढ़ाकर 23 वर्ष कर दिया गया है। इसका मुख्य उद्देश्य है कि ज्यादा से ज्यादा नौजवान अपने आप को देश की सेवा में समर्पित कर पाए। जिससे देश की सुरक्षा और मजबूत हो पाए, और कोई भी दूसरा देश भारत देश की तरफ आंख उठाकर भी देख ना सके। इस योजना के अंतर्गत जब अग्नि वीरों की आर्मी की कार्यालय अवधि समाप्त हो जाएगी। उसके पश्चात उन्हें और रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे। तथा उन सभी अग्नि जिलों में 75% अग्नि वीरों को आगे की सेवा के लिए सेना में रख लिया जाएगा। वह और आगे देश की सेवा कर पाएंगे। इनमें वे अग्निवीर रहेंगे जो कड़ी मेहनत व देश की सेवा के लिए दिलचस्पी दिखाएंगे। इस योजना के अंतर्गत अग्नि वीरों का चयन इंस्टिट्यूट के द्वारा किया जाएगा। जिसमें किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं किया जाएगा सभी को समान रूप से देखा जाएगा। जैसे ही इस योजना के अंतर्गत चार साल की ट्रेनिंग खत्म होती है। तो अग्नि वीरों को चार वर्ष के पश्चात सर्टिफिकेट भी दिया जाता है।

अग्नीपथ योजना के अंतर्गत आवेदन कैसे करें? / Agneepath Yojana Mein Aavedan Kaise Karen?

अग्नीपथ योजना के अंतर्गत सेना में शामिल होने के लिए सबसे पहले आपको इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा। उसके बाद अगर आप उनके परीक्षा में चयन हो जाते हो तो उसके बाद आपको इस योजना के अंतर्गत सेवा करने का मौका मिलेगा। इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आपको आर्मी के अलग-अलग शाखाओं के लिए अलग-अलग रजिस्ट्रेशन करना होगा। आप जिस विशाखा के लिए  आवेदन करना चाहते हैं। उस शाखा के लिए आवेदन करके सेना में भर्ती ले सकते हैं। नीचे आपको तीनों शाखाओं में आवेदन करने की प्रक्रिया को बताया गया है। आप उन प्रोसेस को फॉलो करके आसानी से इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

वायु सेना हेतु आवेदन करना

वायु सेना में पद भर्ती के लिए आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको इनके ऑफिशल वेबसाइट indianairforce.nic.in  पर जाना होगा। इसके लिए आप इस नाम को अपने किसी भी सर्च इंजन पर वैसे गूगल पर या क्रोम ब्राउज़र पर सर्च करके आसानी से इस वेबसाइट पर जा सकते हैं।

उसके बाद आपको इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए लॉगिन करना पड़ेगा। उसके लिए आपको उसमें अपना मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी डालना है। उसके बाद आपके मोबाइल फोन पर एक ओटीपी आएगा। जिसे आपको लॉगइन पेज पर इंटर करके नेक्स्ट पर क्लिक करना है। उसके बाद आपकी ईमेल आईडी पर एक पासवर्ड आ जाएगा।

उसके बाद आपको उस पासवर्ड को इंटर करके दोबारा से लॉगिन करना है उसके बाद आपको अपना एक और पासवर्ड डालने को कहा जाएगा। ध्यान रहे आप इस पासवर्ड को भोलेनाथ इसे अच्छे से याद करके रखें यह पासवर्ड आपका आगे काम आएगा।

जैसे ही आप अपना पासवर्ड बनाकर लॉगिन कर लेते हैं। उसके बाद आपको अपनी ईमेल आईडी और आपके पासवर्ड से दोबारा से लॉगइन करना है। जिसके बाद आप इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत हो जाएंगे।

थल सेना के लिए आवेदन करना

इसीलिए आपको इनके ऑफिशल वेबसाइट पर विजिट करना होगा। जोकि joinindianarmy.nic.in इस वेबसाइट पर visit कारन होगा।

आपको इस वेबसाइट के होम पेज पर अग्नीपथ योजना का एक विकल्प देखने को मिल जाएगा। जिस पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अप्लाई करने के लिए फॉर्म आपके मोबाइल में कंप्यूटर के होम स्क्रीन पर आ जाएगा। इस फॉर्म में आपको मांगे गए सभी जरूरी  जानकारी को देकर सबमिट कर देना है, तथा सभी दस्तावेजों कि एक कॉपी अपने पास रख लेनी है। यह आगे आपके काम आएगी। इस बात का ध्यान रखें कि आप जो भी जानकारी दे रहे हैं। वह सब सही हो। अगर इस योजना के बीच में जांच में अगर कुछ गलती मिलती है तो आपका आवेदन को स्वीकृत नहीं किया जाता है। आप सेना के अंदर भर्ती नहीं हो पाएंगे।

जल सेना के लिए आवेदन

थल सेना के लिए  आवेदन करने हेतु आपको इनके अधिकारी का ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा। जो कि indiannavy.nic.in इस वेबसाइट में जाकर आपको इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा इसमें भी आप मांगे गए सारे जानकारी दो देखकर आसानी से इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हो। इसके बाद अगर आप सरकार के द्वारा आयोजित  परीक्षा को पास करके इस भर्ती के लिए अग्निवीर हेतु चयन हो जाते हो, तो आपको थल सेना के शाखा में चार वर्ष के लिए भर्ती मिल जाएगी।

अग्नीपथ योजना की चयन प्रक्रिया

अग्नीपथ योजना के अंतर्गत अग्नि वीरों का चयन tech  इंस्टिट्यूट द्वारा किया जाएगा। जो कि पूरी तरह पारदर्शी होगा। इसमें किसी भी प्रकार की धोखेबाजी नहीं की जाएगी।

इस योजना में अग्नि वीरों के चेयरमैन से पहले उनकी पूरी तरह से फिजिकल ट्रेनिंग होती है। कहीं उनको किसी प्रकार की समस्या तो नहीं। उनकी मानसिक तौर पर भी जांच की जाती है। उसके बाद ही उन्हें इस योजना के अंतर्गत शामिल किया जाता है।

इस योजना के अंतर्गत आपकी फिजिकल ट्रेनिंग के साथ-साथ आपके लिखित में भी परीक्षा ली जाती है। उसके बाद ही आपको सेना में भर्ती किया जाता है।

इस योजना के अंतर्गत अग्नि वीरों का चयन इससे संबंधित परीक्षा परिणाम में आए मेरिट लिस्ट के द्वारा किया जाता है। जो  मेरिट लिस्ट में आएगा उन लोगों को ही सेना में भर्ती लिया जाता है।

अग्नीपथ योजना के अनुसार आवेदन करने हेतु आवश्यक दस्तावेज

इस योजना के  अंतर्गत आवेदन करने के लिए आपको कुछ आवश्यक दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी। जैसे कि आपके पास 10वीं या 12वीं की मार्कशीट होना आवश्यक है। अतः आपके पास आयु प्रमाण पत्र भी होना चाहिए। साथ ही साथ आपके पास इन  सभी दस्तावेजों के साथ-साथ आपको कुछ अन्य महत्वपूर्ण दस्तावेजों जैसे आधार कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, आपका मोबाइल नंबर, आपका ईमेल आईडी, पासपोर्ट साइज फोटो, आदि। होना चाहिए। उसके बाद आप इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हो।

आवश्यक पात्रता एवं मापदंड

इस योजना के अंतर्गत लोगों को भर्ती होने के लिए कुछ पात्रता का एवं मापदंड सरकार एवं हमारे रक्षा मंत्री एवं तीनों शाखाओं के मुख्य द्वारा निर्धारित किए गए हैं। जो कि आपको नीचे बताया गया है।

1  जो व्यक्ति इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर रहा है। उसकी उम्र 17 से लेकर 23 वर्ष के बीच ही होनी चाहिये। नही तो वह इस योजना के अंतर्गत शामिल नहीं हो सकता।

2 उसका किसी भी स्कूल से दसवीं कक्षा में 45% रिजल्ट आया हो। और उस व्यक्ति का  प्रत्येक सब्जेक्ट में 35% अंक प्राप्त करना आवश्यक है।

3  व्यक्ति भारत देश का मूलनिवासी होना चाहिए, और उसे किसी भी प्रकार की फिजिकल प्रॉब्लम नहीं होनी चाहिए वह पूर्ण रुप से स्वस्थ होना चाहिए।

अग्नीपथ योजना के लाभ और वेतन

योजना के अंतर्गत नौजवानों को सेना में भर्ती होने का मौका तो मिलता ही है। साथ ही साथ अग्नीपथ योजना के अंतर्गत उनको और कई प्रकार के लाभ मिलते हैं। इसके बदले उनको वेतन भी दिया जाता है। जो कि इस प्रकार से है।

अग्नीपथ योजना के अंतर्गत अग्नि वीरों को उनके प्रथम वर्ष में 4.76 लाख का सालाना पैकेज दिया जाता है। जो कि वर्ष के समाप्त होने पर यानी कि चौथे वर्ष में बढ़कर 6.92 हो जायेगा। प्रतिवर्ष अग्नि वीरों के वेतन में सरकार के द्वारा उनके वेतन में 10% की वृद्धि की जाती है। जिनमें प्रथम वर्ष में अग्नि वीरों को पीएफ की कटौती के साथ 21000 रुपय प्रति माह की वेतन दी जाती है। जो कि प्रतिवर्ष बढ़कर चौथे वर्ष में 40000 रुपय  प्रति माह तक बढ़ जाएगी।

अगर अग्नि वीरों की चार साल की ट्रेनिंग के दौरान किसी वजह से मृत्यु हो जाती है। तो उनके परिवार वालों को एक करोड़ रुपए का मुआवजा भी दिया जाता है। अगर अग्नि वीरों की पोस्टिंग किसी मुश्किल हालात वाले जगहों में होती है, तो इसका भी फायदा उनको और उनके परिवार वालों को दिया जाता है। उनको 48 लाख रुपए का बीमा कवर दिया जाता है। साथ ही साथ उन्हें और उनके परिवार को बैंक लोन की सुविधा भी प्रोवाइड की जाती है।

Conclusion

तो आज के इस आर्टिकल में हमने आपको अग्नीपथ योजना से जुड़ी सारी जानकारी पूरे विस्तार से बताई है। उम्मीद है आपको हमारे द्वारा अग्निपथ योजना की दी  जानकारी अच्छी लगी हो, और आपको आपकी आवश्यकता की सारी जानकारी इससे मिल गई हो। तो अगर आपको आज का हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो, इसे अन्य लोगों के साथ शेयर जरूर करें ताकि अन्य लोगों को भी पता चले। कि अग्नीपथ योजना क्या है? और वह कैसे इस योजना के अंतर्गत आवेदन करके भारतीय सेना के तीनों शाखा में से किसी भी शाखा में शामिल हो सकते हैं, और अपना सपना पूरा कर सकते हैं।

Leave a Comment